Thursday, 30 January 2020

राजस्थान के प्रमुख साहित्यकार एवं उनकी रचनाए

ad300
Advertisement

“राजस्थान के प्रमुख साहित्यकार एवं उनकी रचनाएं”





  1. चंदवरदाई = ‘पृथ्वीराज रासौ’
  2. शिवदास गाडण (चारण) = ‘अचलदास खींची री वचनिका’
  3. सूर्य मिश्रण = ‘वंशभास्कर‘ व ‘वीर सतसई’
  4. गिरधर आसिया = ‘सगत रासो’
  5. कवि कलोल = ‘ढोला मारू रा दूहा’
  6. मुहणोत = ‘नैणसी री ख्यात’ व ‘मारवाड़ रा परगना री विगत’
  7. जग्गा खिडि़या = ‘राठौड़ रतनसिंह महेस दासोत री वचनिका’
  8. बीठू सूजा =‘राव जैतसी रो छंद’
  9. नयनचंद्र सूरी = ‘हमीर महाकाव्य’
  10. मंडन = ‘राजवल्लभ’
  11. जयानक = ‘पृथ्वीराज विजय’
  12. रणछोड़दास भट्ट = ‘अमरकाव्य वंशावली’
  13. पदमनाभ = ‘कान्हड़दे प्रबंध’ व ‘हमीरायण’
  14. नरपतिनाल्ह = ‘वीसलदेव रासौ’
  15. महाकवि माघ = ‘शिशुपाल वध’
  16. भट्ट सदाशिव = ‘राजविनोद’
  17. कन्हैयालाल सेठिया = मींझर, गलगचिया, कूंक, पाताल पीथल तथा रमणिये रा सोरठा
  18. विजयदान देथा = बातां री फुलवारी (लोक कथाएं)
  19. सीताराम लालस = राजस्थानी शब्दकोश
  20. कोमल कोठारी = राजस्थानी लोकगीतों, कथाओं आदि का संकलन (रूपायन संस्था द्वारा)
  21. अगरचंद नाहटा = पांडुलिपी संग्रह एवं लघुकथाएं
  22. बसीर अहमद मयूख = गालिब की रचनाओं का राजस्थानी अनुवाद
  23. मणी मधुकर = भरत मुनी के बाद (उपन्यास), पगफैरो (काव्य)
  24. मनोहर वर्मा = आग का गोला सूर्य, एक थी चुहिया दादी, मैं पृथ्वी हूं आदि
  25. महेन्द्र भानावत = गेहरो फूल गुलाब रो, देव नारायण रो भारत आदि
  26. रामपालसिंह राजपुरोहित = सुंदर नैण सुधा (कहानी संग्रह)
  27. मेजर रतन जाँगिड़ = माई ऐड़ा पूत जण (कहानी संग्रह)
  28. चेतन स्वामी = किस्तुरी मिरग (कहानी संग्रह)
  29. नन्द भारद्वाज = सांम्ही खुलतो मारग (उपन्यास)
  30. संतोष मायामोहन = सिमरण (कविता संग्रह)
  31. भरत ओला = जीव री जात (कहानी संग्रह)
  32. अब्दुल वाहीद ‘कमल’ = घराणो (उपन्यास)
  33. जया प्रकाश पांड्या ‘ज्योतिपुँज’ = कंकू कबंध (नाटक)
  34. वासु आचार्य = सीर रो घर (कविता संग्रह)
  35. शांति भारद्वाज ‘राकेश’ = उड़ जा रे सुआ (उपन्यास)
  36. मालचंद तिवाड़ी = उतरियो है आभो (कविता संग्रह)
  37. नेम नारायण जोशी = ओळूं री अखियातां (संस्मरण)
  38. किशोर कल्पनाकांत = कूख पड़ियै री पीड़ (कविता संग्रह)
  39. करणीदान बारहठ = माटी री महक (कहानी संग्रह)
  40. नृसिंह राजपुरोहित = अधुरा सुपणा (कहानी संग्रह)
  41. डॉ॰ अर्जुनदेव चारण = धरमजुध (नाटक)
  42. प्रेमजी प्रेम = म्हारी कवितावाँ (कविता संग्रह)
  43. रेवतदान चारण ‘कलपित’ = उछाळो (कविता संग्रह)
  44. यादवेन्द्र `चन्द्र’ = जामरो (कहानी संग्रह)
  45. भगवती लाल व्यास = आणहद नाद (कविता संग्रह)
  46. नैण मल जैन = सागळां री पीड़ा स्वत मेघ (कविता संग्रह)
  47. महावीर प्रसाद जोशी = द्वारका (खंड काव्य)
  48. सांवर दइया = एक दुनिया म्हारी (कहानी संग्रह)
  49. सुमेरसिंह शेखावत = मारु-मंगल (कविता संग्रह)
  50. मोहन आलोक = गा-गीत (कविता संग्रह)
  51. मूलचन्द ‘प्रणेश’ = चसमदीठ गवाह (कहानी संग्रह)
  52. नारायण सिंह भाटी = बरसाँ रा डीगोड़ा डूँगर लांघियाँ (कविता संग्रह)
  53. रमेश्वर दयाल श्रीमाली = म्हारो गाँव (कविता संग्रह)
  54. डॉ॰ चन्द्र प्रकाश देवल = पागी (कविता संग्रह)
  55. अन्ना राम ‘सुदामा’ = मेवै रा रूंख (उपन्यास)
  56. सत्य प्रकाश जोशी = बोल भारमली (कविता संग्रह)
  57. मणि मधुकर = पगफेरौ (कविता संग्रह)

Share This
Previous Post
Next Post

Pellentesque vitae lectus in mauris sollicitudin ornare sit amet eget ligula. Donec pharetra, arcu eu consectetur semper, est nulla sodales risus, vel efficitur orci justo quis tellus. Phasellus sit amet est pharetra